अदाणी पॉवर रायगढ़ की आजीविका विकास कार्यक्रमों से आत्मनिर्भर बनता विकासखंड पुसौर, आसपास के 26 गांवों में अदाणी फाउंडेशन के सामाजिक विकास कार्यक्रमों से हो रहा सुखद बदलाव

रायगढ़/पुसौर; 27 जून 2024: हर कार्पोरेट संस्था की यह सामाजिक जिम्मेदारी है कि वह अपने विस्तार के साथ-साथ समाज के कल्याण में भी अपनी भागीदारी को निभाए। इस जिम्मेदारी को ध्यान में रखते हुए अदाणी समूह अपने संस्थानों व परियोजना स्थलों के आसपास के क्षेत्रों में शिक्षा, स्वास्थ्य, स्थायी आजीविका, कौशल विकास और ढांचागत विकास के क्षेत्र में लगातार काम कर रहा है। इसी कड़ी में रायगढ़ जिले के पुसौर विकासखंड में स्थित अदाणी पॉवर लिमिटेड, ग्राम छोटे भंडार, बड़े भंडार, बरपाली, सूपा, अमलीभौना, तुपकधार, चंदली, जेवरीडीह सहित कुल 26 गांवों के समाज विकास में सामाजिक सहभागिता के विभिन्न कार्यक्रमों के माध्यम से क्षेत्र के विकास के लिए लगातार प्रयासरत है, जिससे अधिक से अधिक लोगों को अच्छी शिक्षा, आजीविका और स्वास्थ्य सेवाओं से जुड़ने व लाभ उठाने का अवसर मिला है।

कुल 71331.50 किलो टमाटर का उत्पादन एवं बिक्री कर रुपये 9.47 लाख की आय अर्जित

अदाणी पॉवर लिमिटेड के सामाजिक सरोकारों के तहत अदाणी फाउंडेशन के द्वारा स्वरोजगार में आवश्यक सहयोग किया गया है। आजीविका विकास कार्यक्रम के अंतर्गत उन्नत विधि से सब्जी की खेती को प्रोत्साहन देने हेतु 19 स्वयं सहायता समूहों को उन्नत विधि से सब्जी उत्पादन कार्य करने हेतु सभी आवश्यक सहयोग टपक (ड्रिप) सिंचाई प्रक्रिया, बीज, पौधे, उर्वरक इत्यादि हेतु सहयोग और तकनीकी मार्गदर्शन प्रदान किया जा रहा है। जिसके तहत ग्राम ग्राम बरपाली, सूपा और जेवरीडीह के महिलाओं द्वारा टमाटर की खेती की जा रही है। इस वर्ष के दौरान कुल 71331.50 किलो टमाटर का उत्पादन कर रुपये 9.47 लाख में बिक्री कर आय अर्जित किया गया है।

कुल 1497.85 किलोग्राम पैडीस्ट्रॉ और ऑयस्टर मशरूम का उत्पादन कर रुपये 2.34 लाख की आय अर्जित

आजीविका विकास कार्यक्रम के अंतर्गत ग्रामीण क्षेत्र की महिलाओं को आय मूलक गतिविधियों से जोड़ने हेतु पास के सात ग्रामों के कुल 12 स्वयं सहायता समूहों की 53 महिलाओं एवं 8 लोगों को व्यक्तिगत रूप से तीन अलग – अलग बैच मे मशरूम उत्पादन और विक्रय के संबंध मे दो दिवसीय प्रशिक्षण प्रदान कर उन्हें मशरूम उत्पादन करने हेतु शैक्षणिक भ्रमण सहित आवश्यक सामग्रियों का सहयोग निरंतर तकनीकी मार्गदर्शन भी दिया जा रहा है। जिसके फलस्वरूप इन समूहों ने इस वर्ष के दौरान कुल 1497.85 किलोग्राम पैडीस्ट्रॉ और ऑयस्टर मशरूम का उत्पादन कर 2.34 लाख रुपये का मशरूम समूह की महिलाओं द्वारा बिक्री कर आय अर्जित किया गया।

कुल 28 हितग्राहियों का चयन कर कौशल विकास हेतु टेराकोटा का प्रशिक्षण कार्यक्रम

अदाणी पॉवर लिमिटेड रायगढ़ द्वारा पास के ग्राम तुपकधार और चंदली के स्थानीय कलाकारों जो मिट्टी के पारंपरिक व्यवसाय से जुड़े हैं, उनके कौशल विकास और आय के बेहतर संसाधन विकसित करने हेतु कुल 28 हितग्राहियों का चयन कर आजीविका विकास कार्यक्रम के तहत दो माह का प्रशिक्षण कार्यक्रम में प्रशिक्षित किया गया है। इसके साथ ही प्रशिक्षण प्राप्त कर रहे 15 कुम्हारों को ओडिशा के बरपाली जिले में स्थित श्री मनबोध राणा के टेराकोटा प्रशिक्षण सह उत्पादन केंद्र का एक दिवसीय शैक्षणिक भ्रमण कराया गया ताकि वे वहां के स्थानीय कलाकारों से इस कला की बारीकियों को समझ सकें और उत्पादों की मार्केटिंग के संबंध में जानकारी प्राप्त करें। अपनी इस कला के प्रदर्शन के लिए इन्होंने नया रायपुर में आयोजित सरस मेला में भाग लेकर अपने टेरकोटा उत्पादों का प्रदर्शन एवं विक्रय कर आय अर्जित भी किया।

समावेशी विकास की एक प्रभावी पहल

अदाणी समूह की अदाणी फाउंडेशन द्वारा रायगढ़ जिले के पुसौर और तमनार प्रखण्ड में ग्रामीण ढांचागत विकास में किए गए प्रयास ग्रामीण समुदायों को सशक्त बनाने, टिकाऊ प्रथा को बढ़ावा देने और पूरे अञ्चल में समावेशी विकास की एक प्रभावी पहल है। इसके साथ ही पर्यावरण संरक्षण के क्षेत्र में भी उल्लेखनीय कार्य किए जा रहे हैं, जिससे क्षेत्र में औद्योगिक और संरचनात्मक ढांचागत स्थिरता को बढ़ाने में मदद तो मिल ही रही है, साथ ही इन कार्यों ने समाज में भी विभिन्न स्तरों पर लोगों को प्रभावित किया है।

WhatsApp Image 2024-01-16 at 17.12.43
WhatsApp Image 2024-01-16 at 17.12.43
previous arrow
next arrow
Back to top button
भूपेश बघेल ने सहा सोंटे का प्रहार VIDEO CG NEWS : घरघोड़ा बस स्टैंड के पीछे मिला अज्ञात व्यक्ति का शव Sharad Purnima 2023 : जानिए क्यों बनाई जाती है शरद पूर्णिमा पर खीर, जाने क्या है खीर का महत्व
भूपेश बघेल ने सहा सोंटे का प्रहार VIDEO CG NEWS : घरघोड़ा बस स्टैंड के पीछे मिला अज्ञात व्यक्ति का शव Sharad Purnima 2023 : जानिए क्यों बनाई जाती है शरद पूर्णिमा पर खीर, जाने क्या है खीर का महत्व